बहाने Vs सफलता Must Read

बहाने Vs सफलता Must Read

Very Motivational
बहाना 1 :- मेरे पास धन नही है !
जवाब :- इन्फोसिस के पूर्व चेयरमैन नारायणमूर्ति के पास भी धन नही था उन्हे अपनी पत्नी के गहने बेचने पङे।

बहाना 2 :- मुझे बचपन से परिवार की जिम्मेदारी उठानी पङी!
जवाब :- लता मंगेशकर को भी बचपन से परिवार की जिम्मेदारी उठानी पङी थी।

बहाना 3 :- मै अत्यंत गरीब घर से हूँ!
जवाब :- पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम भी गरीब घर से थे।

बहाना 4 :- बचपन मे ही मेरे पिता का देहाँत हो गया था!
जवाब :- प्रख्यात संगीतकार ए.आर.रहमान के पिता का भी देहांत बचपन मे हो गया था।

बहाना 5 :- मुझे उचित शिक्षा लेने का अवसर नही मिला!
जवाब :- उचित शिक्षा का अवसर फोर्ड मोटर्स के मालिक हेनरी फोर्ड को भी नही मिला!

बहाना 6 :- मेरी उम्र बहुत ज्यादा है!
जवाब :- विश्व प्रसिद्ध केंटुकी फ्राइड चिकेन के मालिक ने 60 साल की उम्र मे पहला रेस्तरा खोला था।

बहाना 7 :- मेरी लंबाई बहुत कम है!
जवाब :- सचिन तेंदुलकर की भी लंबाई कम है।

बहाना 8 :- बचपन से ही अस्वस्थ था!
जवाब :- आँस्कर विजेता अभिनेत्री मरली मेटलिन भी बचपन से बहरी व अस्वस्थ थी।

बहाना 9 :- मै इतनी बार हार चूका, अब हिम्मत नही!
जवाब :- अब्राहम लिंकन 15 बार चुनाव हारने के बाद राष्ट्रपति बने।

बहाना 10 :- एक दुर्घटना मे अपाहिज होने के बाद मेरी हिम्मत चली गयी!
जवाब :- प्रख्यात नृत्यांगना सुधा चन्द्रन के पैर नकली है।

बहाना 11 :- मुझे ढेरो बीमारियां है!
जवाब :- वर्जिन एयरलाइंस के प्रमुख भी अनेको बीमारियो मे थे। राष्ट्रपति रुजवेल्ट के दोनो पैर काम नही करते थे।

बहाना 12 :- मैने साइकिल पर घूमकर आधी ज़िंदगी गुजारी है!
जवाब :- निरमा के करसन भाई पटेल ने भी साइकिल पर निरमा बेचकर आधी ज़िंदगी गुजारी।

बहाना 13 :- मुझे बचपन से मंद बुद्धि कहा जाता है!
जवाब :- थामस अल्वा एडीसन को भी बचपन से मंदबुद्धि कहा जता था।

बहाना 14 :- मै एक छोटी सी नौकरी करता हूँ, इससे क्या होगा!
जवाब :- धीरु अंबानी भी छोटी नौकरी करते थे।

बहाना 15 :- मेरी कम्पनी एक बार दिवालिया हो चुकी है, अब मुझ पर कौन भरोसा करेगा!
जवाब :- दुनिया की सबसे बङी शीतल पेय निर्माता पेप्सी कोला भी दो बार दिवालिया हो चुकी है।

बहाना 16 :- मेरा दो बार नर्वस ब्रेकडाउन हो चुका है, अब क्या कर पाउँगा!
जवाब :- डिज्नीलैंड बनाने के पहले वाल्ट डिज्नी का तीन बार नर्वस ब्रेकडाउन हुआ था।

बहाना 17 :- मेरे पास बहुमूल्य आइडिया है पर लोग अस्वीकार कर देते है!
जवाब :- जेराँक्स फोटो कापी मशीन के आईडिया को भी ढेरो कंपनियो ने अस्वीकार किया था पर आज परिणाम सामने है।

कुछ लोग कहेगे कि यह जरुरी नही कि जो प्रतिभा इन महानायको मे थी, वह हम मे भी हो…
सहमत हूँ मै, लेकिन यह भी जरुरी नही कि जो प्रतिभा आपके अंदर है वह इन महानायको मे भी हो.
सार यह है कि… आज आप जहाँ भी है या कल जहाँ भी होगे इसके लिए आप किसी और को जिम्मेदार नही ठहरा सकते, उठो जागो और लक्ष्य की तैयारी करो
All the best


नेटवर्क मार्केटिंग में लोग 5 साल में अपना दिमाग ना चलाकर करोड़पती बन जाते हैं ।

Category : Uncategorized

[6:49 AM, 12/20/2017] JITENDER KUMAR: नेटवर्क मार्केटिंग में लोग 5 साल में अपना दिमाग ना चलाकर करोड़पती बन जाते हैं । और कुछ समझदार लोग अपना दिमाग चलाकर पूरी ज़िन्दगी एक नौकरी में बिताने के बाद भी अपनी समझदारी नहीं छोड़ते । इसलिये आप सबसे निवेदन है कि अपनी समझदारी को एक साइड में रखकर जरा GOVERNMENT की और World के बडे़े बड़े BUSINESSMEN की बातों को सुनो वो क्या कह रहे हैं NETWORK MARKETING के बारे में –

DR A.P.J. ABDUL KALAM – NETWORK MARKETING is the Fastest Growing BUSINESS of 21st Century whitch must be joined by Every Young Man And Woman Globally Otherwise you can Never get the Best of your Youth Age.

RAM VILAS PASWAN – NETWORK MARKETING is the future BUSINESS in India. This is the 21st Century BUSINESS and this Business will Give the Revenue of 9000 Crore to Indian Government Till 2025.

FICCI & KPMG – The NETWORK MARKETING Industry in India Estimated to be INR Billion (2012-13), and forms only around 0.4 % of total Retail sales. This industry Has the Potential to Reach size of INR 645 Billion by 2025.

BILL GATES (MICROSOFT CEO) – If I Would Be a chance to Start All over again, I would choose NETWORK MARKETING.

DONALD TRUMP – NETWORK MARKETING has proven itself to be a viable. There have been some Remarkable Examples of SUCCESS.

LES BROWN – NETWORK MARKETING has Produced More Millionaires than any other Industry in the HISTORY OF WORLD.

BILL CLINTON (AMERICAN PRESIDENT) – You Strengthen our Country and Our Economy not just by striving for your own SUCCESS but by Offering the Opportunity (NETWORK MARKETING) to Others.

ROBERT KIYOSAKI – NETWORK MARKETING Gives people the Opportunity with very Low Risk and very Low Finantional Commitment to Build their Own Income Generating ASSET and Acquire GREAT WEALTH.

बड़े़ बड़े बिज़नेसमैन और GOVERNMENT के इतने बड़े स्टेटमेंट देने के बाद भी 1949 की सोच वाले कुछ हद से ज़्यादा समझदार और ज्ञानी लोग NETWORK MARKETING को चेन सिस्टम, मेम्बर बनाने वाला काम, और कोई स्कीम समझ लेते है। उनसे यही प्राथना है कि 1949 वाली सोच को बदलकर 21st Century में आजाओ वरना वही हाल होगा जो HMT WATCH और NOKIA MOBILE और AMBASSADOR CAR का हुआ Nokia ने ANDROID Technology को Accept नहीं किया और मार्किट से खत्म हो गया और जब तक सोचा तब तक बहुत देर हो चुकी थी।

दोस्तो NETWORKING दुबई के, अमेरिका के, चीन, मलेशिया, आस्टृेलिया, जापान, कोरिया, थाईलैंड, सिंगापुर, वियतनाम और पूरी दुनिया में कई जगह इसकी DEGREE पिछले 40 से 50 सालों से पढ़ाई जा रही है । हमारे भारत मे कर्नाटक मे साउथ INDIA मे पिछले 4 साल से NETWORK MARKETING की DEGREE कराई जा रही है, पिछले एक साल से हमारी दिल्ली में DELHI UNIVERSITY में BUSINESS MBA मे NETWORK MARKETING का पूरा SEMESTER आ गया है,

और अभी भी कुछ नादान, नासमझ, और इन सबसे अनजान लोग जो खुद को बहुत ज़्यादा समझदार समझते हैं हालांकि ये वहम है उनका, वे लोग इस बिज़नेस को Chain System, Member, Scheme और बेकार का काम और बेवकूफ बनाने वाला काम समझते हैं कारण सिर्फ एक ही है, वे लोग अभी तक 1949 वाली सोच मे जी रहे है उनकी आँखें तब खुलेंगी जब उनके खुद के बच्चे 2020 के बाद College से NETWORKING की Degree लेकर निकलेंगे, जैसे
B.NET – BACHLOR OF NETWORKING
M.NET- MASTER OF NETWORKING
MBA.NET- MBA IN NETWORKING

हमारा भारत अमेरिका से 50 साल पीछे है, अमेरिका मे 40% से 50% लोग NETWORK MARKETING बिजनेस में हैं और हमारे भारत मे सिर्फ 0.07% ही लोग इस बिज़नेस मे हैं, कारण सिर्फ एक ही है, 1949 की सोच, जो वक्त के साथ खुद मे बदलाव करना नहीं जानते , और ना बदलाव करना चाहते हैं ।

लेकिन जिन लोगों को इस बदलाव को समझकर OPEN MINDED होकर FREE of Cost NETWORKING सीखनी है और अपनी ज़िन्दगी में उम्मीद से भी कहीं ज़्यादा पैसा कमाना है या कमाना चाहते हैं तो उनके साथ हाथों से हाथ और कंधे से कंधा मिलाकर साथ चलने के लिये हम लोग खड़ें हैं । बस Decide आपको करना है कि आपको पैसा कितना चाहिये और क्यों चाहिये, बाकि सब हम पर छोड़ दो
बदलते वक्त के साथ जो खुद को बदल लेता है safalta उसके कदमों में होती है
Change your thought
Change your health
Change your life

इस लिए VIKVED के साथ मिल कर अपने आप कोc 21 वी सदी के साथ जोड़ो और अपने आप को कामयाब करो.thanks.
JITENDER KUMAR
[7:42 AM, 12/20/2017] JITENDER KUMAR: एक बार बादलों की हड़ताल हो गई बादलों ने कहा अगले दस साल पानी नहीं बरसायेंगे।
ये बात जब किसानों ने सुनी तो उन्होंने अपने हल वगैरह पैक कर के रख दिये
लेकिन एक किसान अपने नियमानुसार हल चला रहा था। कुछ बादल थोड़ा नीचे से गुजरे और किसान से बोले – क्यों भाई पानी तो हम बरसाएंगे नहीं फिर क्यों हल चला रहे हो?
किसान बोला -कोई बात नहीं जब बरसेगा तब बरसेगा लेकिन मैं हल इसलिए चला रहा हूँ कि मैं दस साल में कहीं हल चलाना न भूल जाऊँ।
अब बादल भी घबरा गए कि कहीं हम भी बरसना न भूल जाएं। तो वो तुरंत बरसने लगे और उस किसान की मेहनत जीत गई।
जिन्होंने सब pack करके रख दिया वो हाथ मलते ही रह गए , सो भाइयों लगे रहो भले ही परिस्थितियां अभी हमारे विपरीत है , लेकिन आने वाला समय निःसंदेह हमारे लिये अच्छा होगा ।

Moral of the story : — कामयाबी उन्हीं को मिलती है जो विपरीत परिस्थितियों में भी मेहनत करना नहीं छोड़ते हैं।


Connect with us

VIKVED HEALTH SOLUTION PVT LTD

0

Your Cart